नयी पहेली प्रतियोगिता की सूचना.

यह ब्लाग पुर्णतया मनोरंजक पहेलियों के लिये है. इस ब्लाग पर पहेलियों का क्रम एक से शुरु होगा. अन्य नियम व शर्ते निम्नानुसार रहेंगी.

१. पहेलियां चौबीसों घंटे चालु रहेंगी. यानि एक पहेली का सही जवाब आते ही अगली पहेली प्रकाशित कर दी जायेगी.
२. एक पहली का सिर्फ़ एक ही विजेता होगा. जिसकी घोषणा तुरंत ही कर दी जायेगी.
३. पहेलियां किसी भी विषय पर हो सकती हैं.
४. समय समय पर सबसे ज्यादा पहेली जीतने के क्रमानुसार मेरिट लिस्ट घोषित की जाती रहेगी.
५. इस ब्लाग के पहेली के संचालन कर्ता इस ब्लाग की पहेली मे हिस्सा नही ले सकेंगे.
६. किसी भी तरह के नगद या अन्य वस्तुजनित पुरुस्कार नही दिये जायेंगे.
७. हेट्रिक होने पर ही प्रमाणपत्र दिया जा सकेगा उसके पुर्व नही.

अन्य जो भी नियम और शर्तें होंगी वो समय समय पर बता दी जायेंगी.

तो आईये और जीतिये यह दिलचस्प और ज्ञानवर्धक पहेली प्रतियोगिता.

13 comments:

  cmpershad

15 July 2009 at 20:02

....तो क्या यहां भी कुत्ते बिल्लियां होंगी, ताऊ?:-)

  राज भाटिय़ा

15 July 2009 at 22:22

ताऊ पूछॊ दुसरी पहेली...
Bolivien तो पक्का

  राज भाटिय़ा

15 July 2009 at 22:24

अजी ताऊ जी ना तो मै कोई परिचय दुंगा; ओर ना ही मुझःए कोई प्रमाण पत्र चाहिये हमारी भी यह शर्त है.

  वन्दना अवस्थी दुबे

15 July 2009 at 22:46

badhiya hai......

  संगीता पुरी

16 July 2009 at 01:04

बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

  Pt.डी.के.शर्मा"वत्स"

16 July 2009 at 10:35

यो ब्लाग किस का है!!! म्हारे आले असल ताऊ का या के किसी डुब्लीकेट छदम ताऊ का!

  रचना गौड़ ’भारती’

16 July 2009 at 11:51

बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…मेरे ब्लोग पर आपका स्वागत है।

  नारदमुनि

16 July 2009 at 17:37

yo lathi kyu le rakhi s. narayan narayan

  सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी

16 July 2009 at 18:16

शुरू करिए जी, हम भी कोशिश करेंगे। यह फार्मूला भी हिट होने वाला है। :) शुभकामनाएं।

  HEY PRABHU YEH TERA PATH

16 July 2009 at 18:19

subhkamna ji

  Nirmla Kapila

17 July 2009 at 18:10

ताऊ जी लगता है आपकी लाठी देख कर हमे भागना पडेगा इस ब्लोग से पहेली बूझना तो हमरे बस मे है नेहींेऔर ना ही मूछें कि हम ताव दे कर कह सकें कि बूझ लेंगे राम राम

  Udan Tashtari

17 July 2009 at 20:53

1 2 3 चलो हो जाओ शुरु!!!

  हिमांशु । Himanshu

17 July 2009 at 21:04

ब्लॉग तो खूबसूरत है, पहेलियाँ भी वैसी ही होंगी । आभार ।

Followers