रामप्यारी का सवाल -11

हाय….आंटीज..अंकल्स एंड दीदी लोग..या..दिस इज मी..रामप्यारी.. आज शाम के नये सवाल मे आपका स्वागत है. तो आईये अब शुरु करते हैं आज का “कुछ भी-कही से भी” मे आज का सवाल.

सवाल है : नीचे के चित्र मे क्या दिखाई दे रहा है?



तो अब फ़्टाफ़ट जवाब दिजिये. तब तक रामप्यारी की रामराम.

Promoted By : ताऊ और भतीजा

16 comments:

  Pankaj Mishra

4 August 2009 at 18:06

one girl dancing and one couple kissing

  M VERMA

4 August 2009 at 18:14

इस चित्र मे है
दो स्त्रियाँ, दो पुरूष, एक किला, किला के सामने तालाब (आभासी), किला के सामने फर्श, फर्श पर एक जानवर, बैठा हुआ कौआ, उडते हुए पक्षी
==
बस इतना ही ढूढ पाया.

  मीत

4 August 2009 at 18:18

हम अपनी Training Classes में इस फोटो का इस्तेमाल एक ज़माने से करते आ रहे हैं .... इस लिए मैं तो चुप ही हूँ.

  Udan Tashtari

4 August 2009 at 18:19

सवाल गलत है.

  प्रकाश गोविन्द

4 August 2009 at 19:12

हार कबूल

पहेली बहुत भारी है इस बार

  प्रकाश गोविन्द

4 August 2009 at 19:16

प्रश्न को जरा स्पष्ट करें !

पता तो चले कि हमें बताना क्या है ?

वैसे तो चित्र में कौआ दिखाई दे रहा है !
एक किले का मुख्य द्वार दिख रहा है !
एक वृद्ध आदमी का सिर दिख रहा है !

  मिस. रामप्यारी

4 August 2009 at 19:42

@ Udan Tashtari Said...सवाल गलत है.

पूछा गया है कि : नीचे के चित्र मे क्या दिखाई दे रहा है?

तो इसमे गलत क्या पूछा है? चित्र मे आपको क्या दिखाई दे रहा है? यानि औरत मर्द, बुड्ढा, जवान, पक्षी कुछ तो दिखाई दे रहा होगा? बस ध्यान से देखिये और जवाब दिजिये. सीधा सच्चा तो सवाल है.:)

ठीक है ना अंकल?

  Udan Tashtari

4 August 2009 at 19:49

देख तो बहुत कुछ रहे हैं:

एक बुजुर्ग का चेहरा.

एक बुजुर्ग छड़ी के सहारे खड़ा

एक महिला कान से निकली.

एक महिला दरवाजे के उस पार

दो महिलाऐं कौवे के पीछे से झांकती

तो एक कौव्वा भी

एक युगल नाचता

कभी जो ऊँगली था, जानवर बन जमीन पर पड़ा.
-

क्या क्या मैं बतलाऊँ तुमको
क्या क्या हमने देख लिया!!!


---रामप्यारी तो लट्ठ लेकर खड़ी हो गई... :)

  प्रकाश गोविन्द

4 August 2009 at 20:05

पंकज मिश्र जी से ज्ञान पाकर .... एक लड़की तो दिखाई दे रही है अब वो डांस कर रही है या नहीं .... यह बताना बहुत मुश्किल है !

  seema gupta

4 August 2009 at 20:22

ek lady ne ek bacche ko uthaya hua hai, ek cap ke niche ek couple hai, or ek jmeen pr ek dog soya hua hai. Regards

  संगीता पुरी

4 August 2009 at 20:35

उस बूढे व्‍यक्ति के कान का ऐसा श्रृंगार किया गया है .. जो किसी लडकी के जैसा दिखाई दे रहा है !!

  Nitish Raj

4 August 2009 at 21:16

जब भी ऐसे सवाल पूछे जाते थे तो साथ में ये होता था कि कितने कबूतर दिख रहे हैं या कितने मर्द दिख रहे हैं...पर गर सवाल ये है कि क्या दिख रहा है तो। बहुत कुछ दिखाई दे रहा है। पर जो जवाब आपको चाहिए वो हम देते हैं।
एक बुजुर्ग का चेहरा, एक कबूतर, एक दीवार, एक महिला का चेहरा दीवार के ऊपर, एक बूजुर्ग लाठी लिए हुए, एक पूरी महिला, एक दुधमुंहा बच्चा, एक मां, एक कुत्ता जो सो रहा है या मर चुका है, एक फाटक, एक पत्थर का बना हुआ स्टेंड जिसपर कबूतर बैठा है, दो पिलर, फाटक के ऊपर घास,बादलों में बनी महिला की तस्वीर(कबूतर के पीछे), एक जोड़ा चूम रहा है। और क्या नहीं देख पाया हूं वो जरूर बताइएगा। धन्यवाद

  Nirmla Kapila

4 August 2009 at 22:27

मै तो सब के साथ हूँ हा हा हा

  प्रकाश गोविन्द

5 August 2009 at 01:02

बात कहना तो नहीं चाहता था लेकिन
कहनी पड़ रही है !
हम ठहरे मेडीटेशन वाले .......
जिस चीज़ को भी ज़्यादा देर तक
एकटक देखूं,
बस एक ही चीज़ नज़र आती है :

ऊँ

  अविनाश वाचस्पति

5 August 2009 at 05:51

फिक्सिंग और मैनुप्‍लेटिंग है बस और कुछ नहीं।

  रंजन

5 August 2009 at 16:12

बनाना क्या चाहता था बना क्या दिया.. बनाने वाले को भी नहीं पता..

Followers