रामप्यारी का सवाल -85

हाय….आंटीज..अंकल्स एंड दीदी लोग..या..दिस इज मी..रामप्यारी.. आज शाम के नये सवाल मे आपका स्वागत है. तो आईये अब शुरु करते हैं आज का “कुछ भी-कही से भी” मे आज का सवाल.

सवाल है : इस चित्र को पहचानिये? यह क्या है?




तो अब फ़टाफ़ट जवाब दिजिये. तब तक रामप्यारी की रामराम.
इस सवाल का जवाब कल शाम को चार बजे दिया जायेगा.


Promoted By : ताऊ और भतीजा

9 comments:

  Udan Tashtari

17 October 2009 at 18:01

मूंगफली

  अल्पना वर्मा

17 October 2009 at 18:05

peanut plant

  सैयद | Syed

17 October 2009 at 18:50

अदरक

  Udan Tashtari

17 October 2009 at 19:45

आज लगता है सब या तो दिवाली मना रहे हैं या सब सही जबाब दे रहे हैं..वैसे भी कोई टाईमपास ..तो है नहीं..:)

यह सैयद भाई के लिए हिंट भी है.

  दर्पण साह "दर्शन"

17 October 2009 at 20:07

MAIN AGAR GALAT JAWAB DOON TO BHI CHAPEGA NA?

ARE TABHI TO CHAPEGA !!

NAHI TO CHUPEGA

TO YE LEHSUN HI HAI.....

NAHI NAHI KAHIN SAHI HO GAYA TO?

TO YE ADRAK HI HAI. MERE 50 PAISE 'SAIYAAD BHAI' PE !!

NAHI NAHI RUKO.....

"YE ADRAK AUR BAIGAN KA CROSS KARKE USMEIN SHIMLA MIRCH WALE DNA MILA KAR, MUTTER KI BUDDING SE PAIDA HUA AALO KE BEEJ SE NIKLE WALE TAMATAR KE FAL KI 'CHUKANDAR' ESTYLE SE CLONING KARAVYA GAYA SARSON HAI !!"

AB TO YE KISI HALAT MAIN SAHI NAHI HO SAKTA..
:)

HUREEEEE....
SAIYAD BHAI HUM BHI AA GAYE AAPKE SAATH !!

  डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक

17 October 2009 at 21:13

यह दिया है ज्ञान का, जलता रहेगा।
युग सदा विज्ञान का, चलता रहेगा।।
रोशनी से इस धरा को जगमगाएँ!
दीप-उत्सव पर बहुत शुभ-कामनाएँ!!

  अविनाश वाचस्पति

17 October 2009 at 22:01

हरी प्‍याज

  सैयद | Syed

17 October 2009 at 23:39

समीर सर, मैंने आपका हिंट पकड़ लिया है और जवाब भी दे दिया है, लगता है सही ही है :-)

वैसे पहली बार में मैंने इसे पहचाना क्यूँ नहीं... :(
अभी जब घर गया था तो वहां देखा भी था, पापा ने बगीचें में आजकल यही लगाया हुआ है.

  काजल कुमार Kajal Kumar

19 October 2009 at 00:01

सूखे सांप :-)

Followers