रामप्यारी का सवाल -87

हाय….आंटीज..अंकल्स एंड दीदी लोग..या..दिस इज मी..रामप्यारी.. आज शाम के नये सवाल मे आपका स्वागत है. तो आईये अब शुरु करते हैं आज का “कुछ भी-कही से भी” मे आज का सवाल.

सवाल है : इन को पहचानिये?




तो अब फ़टाफ़ट जवाब दिजिये. तब तक रामप्यारी की रामराम.


Promoted By : ताऊ और भतीजा

16 comments:

  Udan Tashtari

19 October 2009 at 18:00

ऊंट

  डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक

19 October 2009 at 18:04

यो तो ताऊ की फोटो है।
राम-राम!

  Udan Tashtari

19 October 2009 at 18:21

चिम्पांजी वाला बंदर

  Murari Pareek

19 October 2009 at 18:31

untani bhi to ho saktio hai !!

  Murari Pareek

19 October 2009 at 18:32

bhed! hai !

  पी.सी.गोदियाल

19 October 2009 at 18:44

ताऊ जी इसका थोबडा तो मेरे से मिलता जुलता ही लग रिया सी !

  Murari Pareek

19 October 2009 at 18:48

bandar hi hai ye to taau ka pyaraa!!

  mehek

19 October 2009 at 18:52

daaton tho insaan ke lag rahe hai kisi janwar ke nahi

  माधव

19 October 2009 at 18:54

गाय

  संजीव गौतम

19 October 2009 at 19:12

लो जी कल्लो बात इसमें पैचान्ना क्या है- बतीसी है और वो भी ताऊ की.

  अविनाश वाचस्पति

19 October 2009 at 20:03

दांतों को

ओठों को

या खाल को

या खोल कर
रख दें
सारी पोल।

  Hari Joshi

19 October 2009 at 20:06

दीपावली से लेकर भैया दूज तक की घणी राम-राम। ताऊ को भी और ताई को भी।
दूध की बछिया के दांत नहीं देखे जाते ताऊ!

  Nirmla Kapila

19 October 2009 at 20:06

राम प्यारी द-3 दिन बीमार रही तो सोच चलो अच्छा है राम प्यारी की बतीसी तो नहीं देखनी पडेगी हर वक्त सवाल लिये पीछे पडी रहती है राम राम्

  प्रेमलता पांडे

19 October 2009 at 20:37

भैंस के दांत

  काजल कुमार Kajal Kumar

19 October 2009 at 23:16

ऊंट नईं अै...
ये आस्ट्रेलिया का वही क्रिकेट प्लेयर है जो हरभजन की गाली को सचिन के अनुवाद के बाद भी बंदर ही बताता रहा...अंत तक.
तभी मुझे भी पहली बार पता चला कि किसी सिरफिरे को बंदर कहना, मां की गाली देने से भी कहीं ज्यादा भयंकर हो सकता है..
हे भगवान किसी को मां की गाली भले दे लीज्यौ पर बंदर न कहियो रे...

  Udan Tashtari

20 October 2009 at 00:00

कन्फर्म हो गया...भैस का बच्चा है.

Followers