रामप्यारी का सवाल - 98

हाय….आंटीज..अंकल्स एंड दीदी लोग..या..दिस इज मी..रामप्यारी.. आज शाम के नये सवाल मे आपका स्वागत है. तो आईये अब शुरु करते हैं आज का “कुछ भी-कही से भी” मे आज का सवाल.


सवाल है : यह क्या है?




तो अब फ़टाफ़ट जवाब दिजिये. तब तक रामप्यारी की रामराम. इस सवाल का जवाब हमेशा की तरह कल शाम चार बजे दिया जायेगा.


Promoted By : ताऊ और भतीजा

78 comments:

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 18:00

फूल

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 18:00

डहेलिया का :)

  Murari Pareek

30 October 2009 at 18:00

ful hai

  शुभम आर्य

30 October 2009 at 18:01

ful hai ji

  Murari Pareek

30 October 2009 at 18:02

ha..ha.. ful to hai par konsaa????

  शुभम आर्य

30 October 2009 at 18:03

khoz jari hai .........

  Murari Pareek

30 October 2009 at 18:05

pattiyon waala phool hai !! jo hamen fool bana rahaa hai !!!

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 18:07

ये नहीं पूछा है कौन सा...बस, इतना कहा है कि क्या है...

सही जबाब:


फूल और पत्ती

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 18:08

गुगल कहता है


Pretty pink flower :)

haa haa!!

  शुभम आर्य

30 October 2009 at 18:08

sameer uncle ......

sahi hain

:) :) :) :) :) :) :) :)

  पं.डी.के.शर्मा"वत्स"

30 October 2009 at 18:09

अमरूद का फूल दिखे है...

  Murari Pareek

30 October 2009 at 18:11

ha..ha.. sameer ji ke hathkande.....

  शुभम आर्य

30 October 2009 at 18:12

lo ji aaj fir jeet gaye ..........

amrood hi hai .....

badhai ho ......

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 18:12

Rhododendron concinnum flowers

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 18:15

अमरुद का फूल तो पहेली ४२ में पूछा जा चुका है. Repeat Quuestion थोड़ी न अलाऊड है. :) इसलिये वो जबाब नहीं चलेगा.

  शुभम आर्य

30 October 2009 at 18:18

lo inko to paheli 42 bhi yaad hai ..........

lagta hai aaj aandolan hone wala hai

  Pandit Kishore Ji

30 October 2009 at 18:21

kisi tarah ka fool lage hain manne to tau

  Murari Pareek

30 October 2009 at 18:21

ye to money plant hai !!! andolan ki raah nikal pade sameer jji to chaliyee phir aaj khanaa hadtaal karte hai !!!

  भानाराम जाट

30 October 2009 at 18:25

अरे भाईयो....अमरुद का फ़ूल गुलाबी रंग का कोनी होता वो तो सफ़ेद होता है..४२ वी पहेली के जवाब को देख आया मैं.

सवाल ये है कि ये असल का कोई फ़ूल है या कोई ओरनामैंटल चीज है?
कोई बताओ भाई लोगो.

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 18:28

डॉ झटका ने कल तो झटका दे दिया..आज आये नहीं अभी तक...चले आओ!!!

  शरद कोकास

30 October 2009 at 18:29

पराग कण युक्त फूल एवं पत्तियाँ अब असली है या प्लास्टिक के पता नहीं

  Murari Pareek

30 October 2009 at 18:29

yahaan shamaa ji madad li jaa sakti hai

  Murari Pareek

30 October 2009 at 18:30

jhatkaa ji 50 tippaniyon ke baad aate hain

  M VERMA

30 October 2009 at 18:33

समीर जी गलत
यह फूल नही है
यह तो फूला हुआ फूल है

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 18:33

महिलाओं को बाग बगीचे का ज्ञान ज्यादा रहता है तो सब आज नदारद हैं...

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 18:34

हा हा...वर्मा जी, आज आप ही जीतोगे. :)

  M VERMA

30 October 2009 at 18:35

उन्होने देखा कुछ इस तरह फूल को
मै तो उनकी इस अदा पर फूल गये

  M VERMA

30 October 2009 at 18:36

जीतना कौन चाहता है भला
मै तो बस साफ कर रहा था गला

  Murari Pareek

30 October 2009 at 18:41

अब तो दाग्धर साब की सख्त आवश्यकता है !!! अगर काली मैया को कोई भेंट चढा चुके हों तो कृपया आ जावें !!!

  अजय कुमार झा

30 October 2009 at 18:44

ई कद्दू है ..बिल्लन ने अपने कैमरे से खींची है इसलिये ..पता नहीं कभी फ़ूल तो कभी पत्ती दिख रही है...आज का ईनाम हमरे हवाले किया जाए.....जी

  Murari Pareek

30 October 2009 at 18:48

ये कैसा फुल है जिसने पकड़ा इतना तुल है,
सिर्फ पत्तियों से बना है यहाँ न कोई सुल है |
क्या हम समझ रहे है वही है? बात ये मूल है |
या फिर हमारा दिमाग कर रहा कोई भूल है,
अगर डाक्टर झटका कहदें तो कबूल है|
वरना अपना तो हमेशां एक ही उसूल है,
ढूँढते रहो लगातार तेम खोटी करना फिजूल है !!

  संगीता पुरी

30 October 2009 at 18:52

समीर लाल जी ,
प्रश्‍न है 'यह क्‍या है' .. आपने जबाब दिया 'फूल और पत्‍ते'।
उन्‍होने एकवचन में पूछा .. आपने बहुवचन में जबाब दिया .. इसलिए गलत जबाब।
सही जबाब है ..'फूल और पत्‍ते का समूह' .. एक वचन में प्रश्‍न..एकवचन में जबाब .. क्‍या अब भी आपलोगों को मेरे जीतने के आसार नहीं दिखते ??

  संगीता पुरी

30 October 2009 at 18:55

या फिर गुलदस्‍ता भी हो सकता है .. क्‍यूकि रामप्‍यारी ने नहीं पूछा कि ये किसका फूल है !!

  Ranjan

30 October 2009 at 18:59

फूल है जी.. हो किसी का सुगंध और सौन्दर्य तो है न..

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 19:16

हो गई पहेली पूरी::




काजू का फूल और पत्तियाँ

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 19:26

Syzygium Malaccense

  डा.. झटका...21 सालों के तजुर्बेकार

30 October 2009 at 19:28

लो जी आगये जी डाक्टर झटका.... "गुड इन्वनिंग इन इण्डिया"

हां तो अब बताईये कि मर्ज क्या है?

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 19:29

Yeh, Syzygium Malaccense hai....... pakka dead sure.....

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 19:31

aayin! Aaadarniya Sameer ji ne to yeh pehle hi bata diya hai........

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 19:31

Iska matlab is baar ke Vijeta do hain.....

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 19:33

Hum to isliye confident they kyunki isi prakaar ka phool humne Lucknow Botanical Garden mein dekha tha..... to wahin se ek buklet maar ke laaye they ...usi mein dekh ke bola.... hamara dil to garden - garden ho gaya tha....

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 19:36

hamne khud ko doctor ko dikhaya ki aajkal hamein paheli solve karne ki bimaari lag gayi hai,

to doctor ne dawaa di hai.... kaha hai ki 2 goli sone ke baad kha lena aur do goli jagne se pehle.... par koi faayada nahin hua... hum abhi bhi paheli hi solve kar rahe hain....

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 19:39

फाइनल जबाब: अब इसे बदलने के लिए कोई निवेदन स्वीकार नहीं किया जायेगा. यह मेरा अंतिम और एकदम सही जबाब है:


Archirhodomyrtus


कृप्या इसे फिर से चैक करने का निवेदन न करें, व्यर्थ की फ्जीहत होगी.

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 19:40

waise abhi abhi google chachcha ne ek aur answer bataya hai ki yeh Basil bud flower hai....

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 19:40

डॉक्टर झटका, अब आपकी जरुरत ही नहीं बची. :)

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 19:41

महफूस भाई

Archirhodomyrtus ये भी चैक कर ही लो..गुगल तो खुला ही है. :)

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 19:49

jee.......abhi check karta hoon......

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 19:52

Aadarniya Sameerji...... ab to main mahfooz ali se confuse ali ho gaya hoon..... yeh Archirhodomyrtus to bilkul sahi jawab lag raha hai....

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 19:55

:) बाकी प्रतिभागी सही जबाब देख कर चले जाने की प्रथा है.

  डा.. झटका...21 सालों के तजुर्बेकार

30 October 2009 at 19:57

नहीं...नहीं...अभी सही जवाब नही आया है....एक जवाब...अभी बताता हूं.

  डा.. झटका...21 सालों के तजुर्बेकार

30 October 2009 at 19:59

हां तो भक्त जनों..मेरा मतलब प्रतिभागी जनों...अभी तक आये सकल जवाबों मे एक जवाब ही आंशिक रुप से सही है. अगर सही उत्तर नही आया तो उसी को विजयी घोषित करने के बारे मे आपका क्या नजरिया है?

  पं.डी.के.शर्मा"वत्स"

30 October 2009 at 20:00

@समीर जी,
महफूस अली
शायद जीत का नशा कुछ ऎसा ही होता है :)

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 20:01

वो आंशिक वाला शायद मैं ही तो नहीं.....वाआअ हूऊऊऊऊ!!

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 20:02

@ पं.डी.के.शर्मा"वत्स"

aap sahi kah rahen hain..... hum to kasam khaye baithe hain..... ki ek na ek din zaroor jitenge.....

  डा.. झटका...21 सालों के तजुर्बेकार

30 October 2009 at 20:03

वो आंशिक जवाब किसका सही है? किसका गलत है? ये बताने की इजाजत रामप्यारी मैडम ने मुझको नही दी है.

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 20:12

aap sabko yeh soochit karte huye bahut harsh ho raha hai ki "रामप्यारी का सवाल - 98" ke is baar ke vijeta.....


1 . Shri. AAdarniya Sameerlal ji

aur

2. Shri. Mahfooz Ali


hain.....

  डा.. झटका...21 सालों के तजुर्बेकार

30 October 2009 at 20:23

wow...again galat family? हे प्रभु इनकी बुद्धि को निर्मल कर! चलो डाक्टर झटका को कौन सी फ़ीस मिलनी है>

  ललित शर्मा

30 October 2009 at 20:28

ये फ़ूल नही है-सबको फ़ूल बणा रहे है
ये समुद्री जीव है-जो छोटे जन्तुओं को खाता है,
मन्ने एक बार डिस्कवरी मे देख्या था
नाम का पता नही, ये पाणी पे उगी हूयी पत्तियों पे बैठा रहता है फ़ूल जैसा दिखता है जब कोई जन्तु आता है तो जीभ निकाल के हजम कर लेता है,
रामप्यारी इतणी बेवकूफ़ कोनी-ये फ़ूल तो सबने दिख रहा है

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 20:30

अच्छा, अब एकदम फाईनल जबाब,,नो बदलाव बाद में:


Blireiana Plum


प्लम के फूल हैं जी. वो क्या कहते हैं नाशपाती न!!

वही.

  ललित शर्मा

30 October 2009 at 20:30

मन्ने तो सोच्या था के सारी लंका लुट गई होगी,
हम ही लेट हो गये-लेकिन अभी तो पुरा खजाना बचा है,हमारा जवाब रिकार्ड किया जाये
"समुद्री जन्तु" फ़ुल जैसा

  ललित शर्मा

30 October 2009 at 20:32

@समीर भाई राम-राम, यो शनि महाराज फ़ेर आ गया सै, तेल-वेल चढाओ, जब ही कुछ पार पड़ेगी,

  Udan Tashtari

30 October 2009 at 20:33

पल्म (Plum) का फूल


----

  Mishra Pankaj

30 October 2009 at 20:36

पता नहीं कैसा फूल है डा झटका एक बात बताओ ?

  दिलीप कवठेकर

30 October 2009 at 20:51

आलकी की पालकी, जय कन्हिय्यालाल की..

प्लम का फ़ूल है ये. जब गुरुदेव कह रहे हैं तो होगा...

  अल्पना वर्मा

30 October 2009 at 21:37

flower of pink guava

100%
[Laal wale amrood hote hain na unka fool hai--

  अल्पना वर्मा

30 October 2009 at 21:39

Pandit ji kah rahe the--अमरूद का फूल दिखे है... lekin main main 100% sure hun...:)

flower of pink guava!

  POTPOURRI

30 October 2009 at 22:06

Namaskar sabhi ko aane mein deri ho gayi aaj south mein Tulsai vivah manate hai puja mein deri ho gayi

Amrud ka hi phool hai, Malasian lal amrud ka phool. 100% sure hun main.

  POTPOURRI

30 October 2009 at 22:07

Malaysian red guava

  पं.डी.के.शर्मा"वत्स"

30 October 2009 at 22:46

साथ में एक मधुमक्खी भी है :)

  अल्पना वर्मा

30 October 2009 at 22:53

:) sahi hai..ab first position aap ki...madhumakhi pahchanNE ke bonus point rampyari degi hi..:)

  'अदा'

30 October 2009 at 23:19

are baba ye amrood ka phool hai bas...
AMROOD KA PHOOL

  संगीता पुरी

30 October 2009 at 23:44

खोदा पहाड निकली चुहिया .. क्‍या क्‍या ढूंढ रहे थे हमलोग !!

  'अदा'

30 October 2009 at 23:57

AMROOD KA PHOOL HAI...AMROOD KA PATTA BHI TO DEKHIYE.....PAKKA YAHI HAI

  महफूज़ अली

30 October 2009 at 23:59

main is baar bhi pakka fail ho jaunga

  महफूज़ अली

31 October 2009 at 00:00

yeh phooler ka phool hai jo 5000 saal mein ek baar khilta hai...

  महफूज़ अली

31 October 2009 at 00:01

is baar isne khilne ki jagah badal li hai, ab yeh blog pe aa ke khila hai...

  महफूज़ अली

31 October 2009 at 00:05

Alpna ji ka answer hi sahi hai....... ununununununununununun.......... main is baar bhi fail ho gaya....... yah paheli na ho gayi High school ka exam ho gaya hai mere liye.... pata nahi kab pass hounga...

  M VERMA

31 October 2009 at 05:46

अल्पना वर्मा जी ठीक कह रही है यह अमरूद का फूल है.
इस मामले मे मै उनका समर्थक

Followers