फ़र्रुखाबादी विजेता (133) : पी.सी.गोदियाल



एक जरुरी सूचना :-


कल ६ दिसंबर २००९ रविवार को मुंबई मे ब्लागर्स मीट संपन्न होने जारही है. जिसके लिये मैं अपनी शुभकामनाएं प्रेषित करता हूं. इस मीट के लाईव टेलीकास्ट को कवर करने रामप्यारी मैम मुंबई रवाना हो चुकी है. जो भी ब्लागर भाई बहन इसमे मे शिरकत करना चाहें वो श्री विवेक रस्तोगी से संपर्क कर सकते हैं. उनका मोबाईल नंबर 09223394566 है.

VENUE

TRIMURTI JAIN TEMPLE
NATIONAL PARK
BORIVALI (EAST)
MUMBAI-68
TIME - 3:30 PM

रामप्यारी पहेली कमेटी और समस्त प्रतिभागियों की तरफ़ से हार्दिक शुभकामनाएं!




नमस्कार बहनों और भाईयो. रामप्यारी पहेली कमेटी की तरफ़ से मैं समीरलाल "समीर" यानि कि "उडनतश्तरी" आज के फ़र्रुखाबादी विजेता का नाम घोषित करते हुये अपार हर्षित हो रहा हूं. इसके पहले कि मैं नाम घोषित करुं...आईये सही चित्र देख लेते हैं.




और आज के विजेता हैं : पी.सी.गोदियाल जी,
बधाई!


पी.सी.गोदियाल said...
लडकी मेमने को बोतल से दूध पिला रही है !

04 December 2009 18:18






इसके अलावा अन्य विजेता इस प्रकार रहे!

प. डी.के. शर्मा "वत्स",
मुरारी पारीक
ललित शर्मा,


अगला फ़र्रुखाबादी सवाल आज शाम को ठीक ६ बजे. तब तक रामप्यारी पहेली कमेटी की तरफ़ से नमस्ते.



Powered By..
stc2

Promoted By : ताऊ और भतीजाएवम कोटिश:धन्यवाद

6 comments:

  Murari Pareek

5 December 2009 at 16:49

godiyalji badhaai ho!!

  ललित शर्मा

5 December 2009 at 16:52

godiyalji badhai ho! aaj ki parti pakki samjho-jay hind

  संगीता पुरी

5 December 2009 at 17:02

बहुत बहुत बधाई .. पहेली में जल्‍दी पहुंचने का फल अच्‍छा रहा !!

  जी.के. अवधिया

5 December 2009 at 17:03

गोदियाल जी को बधाई!

कल मैं ध्यान नहीं दे पाया था किन्तु आज जब ध्यान गया तो मुझे बहुत आश्चर्य हुआ कि "फ़र्रुखाबादी विजेता (132) : मुरारी पारीक" पोस्ट में मेरे नाम के साथ मेरे रोज अपडेट होने वाले ब्लोग "धान के देश में" के स्थान पर मेरे एक अरसे से बंद पड़े ब्लोग, जो किसी एग्रीगेटर में भी नहीं है, का लिंक दिया गया है। जो लिंक दिया गया है वह तो मेरे प्रोफाइल में मेरे वेबसाइट का भी नहीं है।

खैर लिंक देना तो पोस्ट करने वाले की इच्छा पर निर्भर करता है, वह जो चाहे वह लिंक दे। किन्तु लिंक को देख कर ऐसा प्रतीत हो रहा है कि मेरे रोज अपडेट होने वाले ब्लोग से लोगों को शायद किसी प्रकार की असंतुष्टि है।

  Rekhaa Prahalad

5 December 2009 at 17:12

बहुत बहुत बधाई!

  पी.सी.गोदियाल

5 December 2009 at 17:28

आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद, कृपया मिठाई की प्रतीक्षा करे ! :)

Followers