खुल्ला खेल फ़र्रुखाबादी (155) : आयोजक उडनतश्तरी

rampyari-Santa clause

क्रिसमस की शुभकामनाएँ'

हाय..आंटीज एंड अंकल्स, दिस इज मी... रामप्यारी..

'आप सभी को शुभकामनाएं

rampyari-santa2

क्रिसमस की शुभकामनाएँ'


बहनों और भाईयों, मैं उडनतश्तरी इस फ़र्रुखाबादी खेल में आप सबका हार्दिक स्वागत करता हूं.

जैसा कि आप मुझसे भी ज्यादा अच्छी तरह से जानते हैं कि मैं क्यों ५ सप्ताह तक इस खेल का आयोजक रहूंगा. इस खेल के सारे नियम कायदे सब कुछ पहले की तरह ही रहेंगे. सिर्फ़ मैं आपके साथ प्रतिभागी की बजाय आयोजक के रुप मे रहुंगा. डाक्टर झटका भी पुर्ववत मेरे साथ ही रहेंगे.

आशा करता हूं कि आपका इस खेल को संचालित करने मे मुझे पुर्ण सहयोग मिलता रहेगा क्योंकि अबकी बार आयोजकी एक दिन की नही बल्कि ५ सप्ताह की है. और इस खेल मे हम रोचकता बनाये रखें और आनंद लेते रहें. यही इसका उद्देष्य है. तो अब आज का सवाल :-
नीचे का चित्र देखिये और बताईये कि ये कौन हैं??

तो अब फ़टाफ़ट जवाब दिजिये. इसका जवाब कल शाम को 4:00 बजे दिया जायेगा, मैं और डाक्टर झटका खेल दौरान आपके साथ रहेंगे.

"बकरा बनाओ और बकरा मेकर बनो"

.टिप्पणियों मे लिंक देना कतई मना है..इससे फ़र्रुखाबादी खेल खराब हो जाता है. लिंक देने वाले पर कम से कम २१ टिप्पणियों का दंड है..अधिकतम की कोई सीमा नही है. इसलिये लिंक मत दिजिये.


Powered By..
stc2

Promoted By : ताऊ और भतीजाएवम कोटिश:धन्यवाद

181 comments:

  Murari Pareek

26 December 2009 at 18:01

priyankaa chopraa

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 18:03

मुरारी जी नमस्‍कार .. पर आप इतनी जल्‍दी जबाब दे दिया करेंगे .. तो समीर जी की तरह आपको भी सजा दिलवानी होगी !!

  Rekhaa Prahalad

26 December 2009 at 18:03

Namaskar Murariji.
jawaab:Bipasha basu

  पं.डी.के.शर्मा"वत्स"

26 December 2009 at 18:04

bipasha aunty....

  Rekhaa Prahalad

26 December 2009 at 18:04

Namaskar Sangitaji.

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 18:04

प्रतिदिन इस समय एक पोस्‍ट डाल दिया करते हैं आप .. और हमलोगों को चुटकुलों में व्‍यस्‍त कर खुद जल्‍दी से जबाब दे देते हैं !!

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 18:05

नमस्‍कार सबों को !!

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 18:05

मुझे भी बिपाशा ही लग रही है !!

  makrand

26 December 2009 at 18:05

सभी को बालक मकरंद का प्रणाम...नमस्कार चरण स्पर्श..पाय लागूं पंडितजी..

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 18:05

माधुरी दिक्षित

  Murari Pareek

26 December 2009 at 18:06

ha..ha.. sangeetaji aapki shikayat jayaj hai par meraa jawaab hamesaan tukka hotaa hai

  makrand

26 December 2009 at 18:07

ये तो मुनमुन आंटी दीख रही हैं?

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 18:07

मुरारी जी, संगीता जी, रेखा जी, पंडित जी, सभी को मेरा सादर प्रणाम, अत्र कुशलम, तत्रास्तु।

  makrand

26 December 2009 at 18:07

ललित अंकल नाम्स्ते

  makrand

26 December 2009 at 18:08

ललित अंकल बच्चा दिखाई नही देता क्या? नमस्ते किये जारहा ःऊं तीन मिनट से?

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 18:08

बालक मकरंद को कोटिश आशीष, शुद्धो असि बुद्धो असि निरंजनो असि।

  Murari Pareek

26 December 2009 at 18:08

ललितजी राम राम << मकरंद इसका जवाब तुम मत देना रेखाजी ने दे दिया है !!! सही जवाब!!!

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 18:10

क्लाऊडि्या है (बिग बोस वाली नही)

  makrand

26 December 2009 at 18:14

ललित अंकल, हिंदी मे आशिर्वाद दिजिये...पता नही आपने क्या आशिर्वाद दिया?

  makrand

26 December 2009 at 18:14

रेखा आंटी ...मुरारी अंकल गलत बोल रहे हैं..ये बिपाशा आंटी नही है..अभी थोडी देर मे मेरी मम्मी सही जवाब बतायेगी...

  Murari Pareek

26 December 2009 at 18:23

sahi jawaab to makrand prinka hi hai chpraa

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 18:23

मकरंद हमारा कहना है, विचार विकार रहित हों, मस्तिष्क विवेक सहित हो, जीवन वीतरागता पुर्ण हो, इन गुणों से युक्त होकर संसार पर विजय पाओ, चतुर्दिक यश हो, यही हमारा आशीष है।

  makrand

26 December 2009 at 18:26

ललित अंकल आज आपके आशिर्वाद से इस पहेली पर ही विजय पालूं तो कैसा रहे?

मुरारी अंकल अगर ये प्रियंका आंटी हुई तो शर्त हो जाये..चाय पिलाने की. और ललित अंकल की पान की दूकान पर पान खिलाने की.

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 18:28

स्वागत है पान की दुकान पर- चली आना तु .....

  makrand

26 December 2009 at 18:30

मिल गया ...मिल गया..लिंक मिल गया...

  Murari Pareek

26 December 2009 at 18:31

jaraa link dena makrand!!!

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 18:43

श्री मुरारी पारिक जी
सुश्री संगीता पुरी जी
सुश्री रेखा जी
श्री पं डी के शर्मा वत्स जी
श्री मकरंद जी ’विजेता’
श्री ललित शर्मा जी



-शत शत नमन एवं हार्दिक अभिनन्दन-

आपके आने से इस मंच की शोभा बढ़ी है-

आप को पहेली मंच से क्रिसमस की बधाई एवं शुभकामनाएँ.


:)

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 18:44

मकरंद



ये तुम पान, तम्बाखू और चाय- कब से चक्कर में आ गये??

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 18:44

गुल पनाग !!

  makrand

26 December 2009 at 18:44

किस किस को लिंक चाहिये. पहले दंड कौन भुगतेगा? यह तय कर लिया जाये...फ़िर लिंक दूंगा...

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 18:45

प्रिय बालक मकरंद को हैट्रिक के लिए मेरी समस्त शुभकामनाएँ.

  काजल कुमार Kajal Kumar

26 December 2009 at 18:45

देखने में तो कोई अधनंगी औरत सी लग रही है पर, गारंटी नहीं (आजकल के ज़माने में कुछ और भी हो सकता है)..

  makrand

26 December 2009 at 18:46

नही समीर अंकल वो मैं नही खाता...मैने तो हारने पर फ़ोकट ललित अंकल की दूकान पर चाय पान करवाने का कहा था...मुझे तो मेरी मम्मी चाय काफ़ी कुछ भी नही पीने देती.

  makrand

26 December 2009 at 18:47

मुनमुन सेन आंटी है. रिया सेन की मम्मी जी.

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 18:50

फिर ठीक है..अच्छे बच्चे पान नहीं खाते, चाय नहीं पीते...



बस, दूध में बार्नविटा मिला कर पिओ और नाचो!!

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 18:52

श्री काजल कुमार जी




-शत शत नमन एवं हार्दिक अभिनन्दन-

आपके आने से इस मंच की शोभा बढ़ी है-

आप को पहेली मंच से क्रिसमस की बधाई एवं शुभकामनाएँ.

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 18:54

समीर भाई राम-राम, आज गाड़ी लेट हो गयी?

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 18:56

श्री काजल कुमार जी, राम-राम
चर्चा मंच पे आए कि नही आप?

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 18:56

क्या बतायें भई.....


कभी कभी देर भी हो जाती है. :)


मगर सजा तो काटना ही है, दरबान बने खड़े हैं सबको सलाम बजाते...अब तो लोग पलट कर जबाब भी नहीं देते मगर हमें तो ड्यूटी है, करना पड़ता है.

  महेन्द्र मिश्र

26 December 2009 at 18:57

कोई चालीस वर्षीय कन्या की पीठ है .... हा हा .हा घणी क्रिसमस की शुभकामना जी

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 18:59

श्री महेन्द्र मिश्रा जी




-शत शत नमन एवं हार्दिक अभिनन्दन-

आपके आने से इस मंच की शोभा बढ़ी है-

आप को पहेली मंच से क्रिसमस की बधाई एवं शुभकामनाएँ.

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 19:00

राम राम समीर जी !!

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:02

घणी राम राम दरबान की!!

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:04

समीर भाई-कुछ गरम-गरम पेश करुं?

  डाँ. झटका..

26 December 2009 at 19:04

घोषणा



अभी तक सही जबाब नहीं आया है.



हिंट समाप्त!!!

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 19:04

निराश मत होइए .. सजा समाप्‍त होनेवाली ही है !!

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:05

एश्वर्या है, इतनी सर्दी में भी ओहो ओहो :(

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 19:05

आज डा झटका आ गए !!

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:05

जरुर ललित भाई, स्वागत है!!

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:06

अरे ये कैसा हिंट भाई?

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:06

तोसे लागे नैना जी




-शत शत नमन एवं हार्दिक अभिनन्दन-

आपके आने से इस मंच की शोभा बढ़ी है-

आप को पहेली मंच से क्रिसमस की बधाई एवं शुभकामनाएँ.

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:07

ललित भाई गरम-गरम क्या खिला रहे हैं? समीर भाई,संगीता जी,रेखा जी, मकरंद, और डॉक्टर झटका को राम-राम।

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:08

हहहहह समीर भाई आप मुझे जानते हैं?

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:09

मेरा ब्लॉग भी बूझो तो जाने है, सोचो और बताओ जरा मै हूँ कौन?

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:09

जालिम ते्रे ईश्क मे कबाड़ी हो गये
अच्छे भले थे आदमी पनवाड़ी हो गये

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:10

प्रोफाईल तो देखा है..दिल्ली मे हैं यह भी जाना...बाकी नाम आप बता दो. :)

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:11

वाह! वाह ललित भाई क्या बात है!

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:11

जालिम ते्रे ईश्क मे कबाड़ी हो गये
अच्छे भले थे आदमी पनवाड़ी हो गये

और जबसे तमन्ना हुई कि मॉडलिंग करे
यकीन मान लिजिये हम खिलाड़ी हो गये.

  makrand

26 December 2009 at 19:11

अरे नैना आंटी नम्स्ते

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:11

वाह वाह!! ललित भाई छा गये!!

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:12

मुझे लगा था समीर भाई आप तो ऎसा नही कहेंगे,खैर :(

  makrand

26 December 2009 at 19:12

ये क्या होगया? क्या मुनमुन सेन सही नाम नही है? मम्मी झःऊंठ तो अन्ही बोलती..फ़िर क्या हुआ? जाकर पूछ के आता हूं>

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:12

मकरंद


नैना आंटी का कौन हैं, जानते हो क्या बालक? :)

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:12

तोसे लागे नैना जब से
नही है चैना तब से

पह्चान गए, आप तो हमारे पिछले जनम की साथी हैं, बस रविकिशन का बुलावा आने का ईंतजार है, राज सबके सामने खुल जाएगा।

  makrand

26 December 2009 at 19:13

वाह वाह समीर अंकल..

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:13

हाय मकरन्द कितना अच्छा है कितनी जल्दी पहचान गया। कैसा है तू, तुझे मेरा नाम कैसे मालूम हुआ भई?

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:14

ओये होये ललित भाई पहले क्यों नही बताया?

  makrand

26 December 2009 at 19:14

जानता हूं ना नैना आंटी को..नैना बरसे रिमझिम रिमझिम वो ही अपनी रेडियो वाली आंटी...

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:15

डॉक्टर झटका जी कुछ क्लू दीजिये न.

  makrand

26 December 2009 at 19:15

अरे नैना आंटी..बालक हूं तो क्या हुआ? रहता तो आप बडों क संगत मे हूं ना? सब समझता हूं.

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:16

मिस्टर पारीक कैसे हैं आप? पहचाने की नही?

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:16

गाने खूब सीख रखे हैं, मकरंद...बस पढ़ने में मन नहीं लगता.

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:16

तेरे नैना हैं जादु भरे ओ गोरी तेरे नैना है जादु भरे
क्युं छुप-छुप जूलम करे...................

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:16

अब नाम बता ही दो नैना जी..यहाँ से बात बाहर नहीं जाती. :)

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:17

This comment has been removed by the author.
  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:18

ये राम प्यारी जी को हुआ क्या नजर नही आती आजकल.

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:19

preeti zinta

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:19

adaaji??

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:19

नैना जी, हुण अस्सी तुहानु पेश करदे हन एक साड्डे दिल तों निक्ळ्या नगमा, नोश फ़रमाओ

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:19

नही समीर भाई अभी नही। पहचान तो आप सब जाओगे, पक्का है मगर कुछ दिन और खेले वो है न लुका छिपि :)

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:20

PrEiTy ZiNtA

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:21

ओ प्राजी तुस्सी सुणावो अस्सी इथै ही बैठयां सी।

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:22

ਆ ਕੀ ਹੋਯਾ ਤੁਸ੍ਸੀ ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਗਾਲਾ ਕਰਦੇ ਹੋ !!! अ की होया तुस्सी पूंजाबी विच्च गलां कारन लागे !!

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:22

कि मुरारी पारीक जी तुस्सी बार बार प्रीती जिंटा जी का नाम कैवें ले रहे हो जी? ए तो एश्वर्या ही है।

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:25

ये तो कोई हिरोइन ही लगती है जी।

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:25

चम्पे दी बंद कलिए तैनु केड़े वेल्ले रब ने बणाया
सोचां विच आप पै गया दुज्जा चंन्न कि्दरों उतर आया, नी चम्पे दी ये बंद कलिएsssssss

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:26

वाह!वाह!

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:26

सबको राम-राम ये किस चक्कर में पड़ गये सब?

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:27

oye balle oye!! lalite!!

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:27

सुनीता जी राम-राम
आज शर्मा जी सीळा पाणी सुं न्हाया के नही?

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:27

sunitaa ji pranaam!!

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:28

क्या हुआ सबको पहेली छोड़ कर किस बिजनेस में लगे हो? वैसे एक ही इन्सान है जो इस लुका छिपि को जल्दी पकड़ सकता है...:)

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:30

मुरारी पारीक जी का तो समझ आता है उम्र का तकाजा है पण ललित भाई आप...और समीर भाई आप भी...सोचा भी न था:(

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:32

शर्मा जी की छोडो थे आपणी मूछां की फ़िकर करो साहजी ओ थानै के होण लाग्यो। काल कुछ कवो था आज कुछ होर लिकड़ा, आज तो म्हे भाभीसा सै बात करांगा।

  तोसे लागे नैना

26 December 2009 at 19:33

इब बोलो पहचाणा

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:34

सबनै राम-राम इब जावां...सब का सब म्हारी पहेली मै एक सागै फ़ँस गा...हहहहहह

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:34

सुनीता जी-नाराज मति ना होवो म्हे तो थारी आज पढ्योड़ी कहाणी की बात कर रहया था।

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:35

कमाल है सगळी भाषा बोलिजन लागरी हे राम के होग्यो सगला सगळी भाषा सिख गया!!!

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:36

हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हाहा हा हा हा हा हा हा

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:37

सुनीता जी जय हो थारी कारीगरी

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:37

अरै मुरारी भाया...समझ्या अठै कोई अदा जी कोन्या...सगली भाषा बोलणी पड़ज्या है कदै कदै।

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 19:37

सुश्री सुनिता जी




-शत शत नमन एवं हार्दिक अभिनन्दन-

आपके आने से इस मंच की शोभा बढ़ी है-

आप को पहेली मंच से क्रिसमस की बधाई एवं शुभकामनाएँ.

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:38

चालो बढ़िया है पण म्हारा समीर भाईसा कठै भाज्ग्या...आज तो म्हे कनाडा फ़ोन मिला कै भाभीसा सै बात करांगा ही।

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:39

समीर भेजी क पल्ले कोणी पड्यो दिखे!!!

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:40

ओहो समीर भाई कट एण्ड पेस्ट टेकनीक..वाह भाई वाह गज़ब हो जी। आपको भी बहुत-बहुत बधाई जी। और आपके उन दो नन्हे मुन्नों को भी बधाई। भाभी जी से हम खुद ही बात कर लेंगे आज तो।

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:40

bhaaiji likhyo bheji hogyo

  स्वामी ललितानंद महाराज

26 December 2009 at 19:41

अलख निरंजन- अठे तो बड़ा-बडा बाबाजी ही, हम तो फ़ालतु मोडा बण्या फ़िरे था। अलख निरंजन

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:42

हाँ साची कह रय्या हो। इब भाई की बुध्दि भाई स्यारकी तो कौनी कैया करे न. समझ जावैंगा जल्दी ही।

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:44

भाई मुरारी इब यो मोडियो के करण आगो? इनै बारिने सै ही कुछ देकै टकरा दे।

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:46

बबोजी आ ग्या!! बबोजी कथे स्यूं पधारया!!

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 19:46

आदरणीय समीरजी, नमस्कार,
ललित जी राम राम
गोदियाल जी राम राम
संगीता जी नमस्कार
पंडित जी नमस्कार
गगन जी नमस्कार
रेखा जी नमस्कार
सीमा जी नमस्कार...
अल्पना जी नमस्कार...
दिगम्बर जी नमस्कार...
तोसे लागे नैना जी नमस्कार...
महक जी नमस्कार..
सुनीता दी नमस्कार
श्री श्री बाबा शठाधीश जी महाराज जी राम राम
श्री श्री १००८ बाबा समीरानन्द जी राम राम
मुरारी जी जय हिंद....
मकरंद को प्यार...

रामप्यारी I Love you......

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 19:47

सुनीता दी .... इस छुटके भाई से नाराज़ हैं क्या? ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ...आ आ आ आ आ .......ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ .....आ आ आ आ आ ....

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:49

महफ़ूज भाई राम-राम। अच्छा भई भाई लोगो मै तो चली और मेरे संग तोसे लागे नैना भी...सबको राम-राम बाय-बाय।

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:49

वाह भाई सुनीता जी-आज तो म्हारी ही खोपड़ी घुमगी। क्युं भोळा-भाळा, "बावळा" माणस नै डराया करो, म्हारी तो पुतळी ही फ़िरगी,

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:51

अरे नाराज कैसे भई आज ही तो तुम्हारी पोस्ट पर टिप्पणी दी है। देखो टिप्पणी देख कर तो सबको हँसी आ जाती है और तुम रो रहे हो...अच्छा चलो चुपा हो जाओ कल एक और दे दूँगी अच्छे बच्चे रोते नही...:)

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:51

महफ़ूज भाई राम-राम

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 19:51

दी...कहाँ ? मैं तो अभी खेलने आया हूँ...... ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:51

चुप को चुपा लिख दिया गलती से भाई...:)

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 19:51

कहाँ दी....आपकी टिप्पणी नहीं आई है?

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 19:52

ललित जी राम .... राम.......

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:52

विद्या बालन !! बालन जोगोड़ी!!!

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:53

ललित भाई बुरा मत मानना बहुत दिन से ताऊ की इस चौपाल में धमाल करने का मन था। बस खेद है सोचा था समीर भाई अपनी इस बहन को पहचान ही जायेंगे...पर पहले ही मैदान छोड भाग गये।

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:54

mhfujj bhaai aajkal badi der se aate ho kyaa chakkar hai bhaai!!

  makrand

26 December 2009 at 19:54

मिल गया ..मिल गया सही जवाब मिल गया..

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:55

अरे महफ़ूज मैने दी है तुमने ढँग से पढ़ी नही। यहाँ से कोई भी पढ़ेगा तो बता देगा पक्का की मैने टिप्पणी दी है। अब मुझे देर हो रही है ज्यादा देर लुका छिपि खेल नही पाऊँगी।:)

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:56

अरे मकरंद कहाँ भाग गया था?

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:56

ओह!!! आप हैं सुनिताजी!!!

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 19:56

अरे! मुरारी जी..... आजकल रामप्यारी शाम में ही मिलने बुलाती है..... इसीलिए देर हो जाती है......

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:57

मैं समझा था मुरारी जी हैं और उनको पंजाबी नही आती, इस लिए चेक किया तो, इधर से भी पंजाबी आ गयी तो फ़िर मै मारवाड़ी मै आया तो चेक हुआ, हा हा हा हा भाई आज तो ईतना धमाल हो गया कि सारे मोडे भी मिल के नही मचा पाए।

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 19:57

अच्छा! दी..... अभी चेक करता हूँ.....

  makrand

26 December 2009 at 19:57

आज तो मेरा मन एक पुराना गाना गाने को कर रहा है..उसी मे जवाब है. सुनिता आंटी नाम्स्ते.

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:57

makrand sahi jwaab vidyaa balan hai dekhlo google uncle se poochh lo!!!

  Murari Pareek

26 December 2009 at 19:58

हां.हां यहाँ सब बहु भाषी है ललित जी मुझे तो मराठी बँगला असामीज भी आती है!!!

  makrand

26 December 2009 at 19:58

नही सही जवाब ये भी नही है.

  सुनीता शानू

26 December 2009 at 19:59

ओहो मुरारी भाई...मतलब अभी तक मेरी पहेली किसी ने नही सुलझाई थी। हाहहाह्हह बताने के बाद भी? वाह वाह वाह...चलो घणी राम राम भई

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 19:59

सुनीता जी चर्चा मंच पर आपके चरण नही पड़े मैने आज से चिट्ठा चर्चा शुरु की है उसपे, कृप्या वहां भी एक चक्कर लगा आएं, महफ़ुज भाई आप भी, मुरारी और संगीता जी तो हो आए।

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 19:59

अब जवाब भी दे दूं.... यह प्रीती जिंटा है.... फिल्म का नाम है ....पीठ मत दिखाना..

  makrand

26 December 2009 at 19:59

फ़िर पूछ रहा हूं किसे चाहिये लिंक? अबकि बार सौ टका सही है, वर्ना मैं ही जवाब द दूंगा कल की तरह..फ़िर मत कहना.

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 20:00

हिंट क्‍यूं नहीं आ रहा है .. सही जबाब मिल गया है क्‍या ??

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 20:01

अच्छा कहाँ पे है चिटठा चर्चा....? अभी देखते हैं.... पान कि दूकान पर...... ?

  makrand

26 December 2009 at 20:02

हिंट भी आगया कि अभी तक सही जवाब नही आया है. सिर्फ़ मेरे पास है सही जवाब लिंक के साथ...

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:03

मैं सोच ही कोणी सक्यो सुनीता जी की थे हो!!!

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:03

makrand jaraa link chhap to/??

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 20:03

चर्चा मंच पर

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 20:04

यह हेरोइन तो पीठ दिखाते हुए ...शर्मा भी रही है..... यह प्रीती जिंटा नहीं हो सकती.....

  महफूज़ अली

26 December 2009 at 20:04

अच्छा! अभी देखते हैं.....

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:05

वाह ललितजी ब्लॉग का टेम्पलेट पसन् आया बहुत सुनदर बना दिया आपने गुनगुनाते रहो को!!!

  makrand

26 December 2009 at 20:05

अंकल पेनल्टी कौन भरेगा?

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:06

लेकिन साइड की फोटुवें कहाँ है !!!

  ललित शर्मा

26 December 2009 at 20:11

मुरारी जी अभी बाकी काम बचा है अगर आज रात को हो जाए तो? हैडर मै बना देता हुँ बाकि छोटा मोटा आप देख लेना, बाकी अक्षर का काम सुबह होगा रात मे कलर समझ मे नही आता।

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:14

lalit ji bahut hi badhiyaa hai kalar bhi laghtt sahi hai!!

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:16

सच में ललित जी बहुत ही बढ़िया लगा ऐसा टेम्पलेट में धुंद रहा था जिसके दोनों तरफ फोटू लगा सकूँ और बिच में पोस्ट हो अनेको अनेक धन्यवाद!!!!

  डाँ. झटका..

26 December 2009 at 20:32

हिंट : यह अपने समय की सबसे बडी स्टार हुई हैं. इनकी शादी भी पूरीतरह से फ़िल्म व्यवसाय को समर्पित घर मे हुई है.

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 20:41

श्रीदेवी !!

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:45

madhuri dikshit

  सर्किट

26 December 2009 at 20:47

गलत जवाब...अभी तक सही जवाब नही है.

  सर्किट

26 December 2009 at 20:48

भाई आज मौका लग गयेला है..इसकू तो अपुन पहिचानता है..

  सर्किट

26 December 2009 at 20:48

अरे ाई ये भाभी लग रयेली है...रेडियो वाली...हैल्लि मुम्बई वाली

  सर्किट

26 December 2009 at 20:49

अपुन का जवाब नोट किया जाय...विद्द्या बालन लग रयेली है अपुन को

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:49

oh sangeetaji aap sahi hai sridevi hi hongi madhuri ke pati to surgeon hain!!

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:50

नहीं रे सर्किट ये झटका ने झटका दे डाला अपुन को!!

  डाँ. झटका..

26 December 2009 at 20:53

आखिरी हिंट : इनका राजनिती से भी वास्ता है!

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:53

jaya bhaduri

  सर्किट

26 December 2009 at 20:54

अरे भाई फ़िर ये रेखा...जयाप्रदा..जया भादुडी कुछ बी होयेंगी? ऐसाइच हिंट क्या दे रयेला है डाक्टर झटका..? जरा चकाचक हिंट मारने का

  सर्किट

26 December 2009 at 20:55

अबी मैं जा रयेला है..कल आयेगा.

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:57

helen the correct answer

  Murari Pareek

26 December 2009 at 20:58

nurgis dutt

  Murari Pareek

26 December 2009 at 21:00

jayaa bhaduri!!

  Murari Pareek

26 December 2009 at 21:00

jayaa bachhan!!

  dhiru singh {धीरू सिंह}

26 December 2009 at 21:01

This comment has been removed by the author.
  dhiru singh {धीरू सिंह}

26 December 2009 at 21:07

१०० % नर्गिस जी

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 21:14

हेमा मालिनी !!

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 21:15

हेमा मालिनी ही है,लॉक किया जाए .. रामप्‍यारी आज बहुत समय ले लिया तुमने मेरा !!

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 21:32

श्री स्वामी ललितानन्द जी महाराज
श्री सर्किट जी
श्री महफूज़ अली जी
श्री धीरु सिंग जी





-शत शत नमन एवं हार्दिक अभिनन्दन-

आपके आने से इस मंच की शोभा बढ़ी है-

आप को पहेली मंच से क्रिसमस की बधाई एवं शुभकामनाएँ.

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 21:37

माननीय उपस्थितों

कोई अन्दर तो नहीं छूट गया. मेरी ड्यूटी का समय ख्त्म होने के पहले सब अपना अपना जबाब लिख दें. फिर ताला लग जायेगा. :)


-समीर लाल ’गोरखा दरबान’

  संगीता पुरी

26 December 2009 at 21:46

समीर जी .. यहां के ताले की बहुत सारी चाबियां बनवाकर सबको बॉट दी गयी है .. जिन्‍हें जबाब देना होगा .. स्‍वयं खोलकर डाल देंगे .. आप निश्चिंत होकर जाएं !!

  पं.डी.के.शर्मा"वत्स"

26 December 2009 at 21:52

jaya prada

  पं.डी.के.शर्मा"वत्स"

26 December 2009 at 21:56

hema malini...

good night....

  Udan Tashtari

26 December 2009 at 22:40

शलाम साहेब...सभी लोग गिया क्या??

  सतीश सक्सेना

27 December 2009 at 00:54

१७९ प्रतिक्रियाओं के लिए बधाई !

  अल्पना वर्मा

27 December 2009 at 01:35

Hema Malini
Sangeeta ji ko first vijeata hone ki badhaayee

Followers