ताऊ की चौपाल मे : दिमागी कसरत - 20

ताऊ की चौपाल मे आपका स्वागत है. ताऊ की चौपाल मे सांस्कृतिक, राजनैतिक और ऐतिहासिक विषयों पर सवाल पूछे जायेंगे. आशा है आपको हमारा यह प्रयास अवश्य पसंद आयेगा.

सवाल के विषय मे आप तथ्यपुर्ण जानकारी हिंदी भाषा मे, टिप्पणी द्वारा दे सकें तो यह सराहनीय प्रयास होगा.


आज का सवाल नीचे दिया है. इसका जवाव और विजेताओं के नाम अगला सवाल आने के साथ साथ, इसी पोस्ट मे अपडेट कर दिया जायेगा.


आज का सवाल :-

महाभारत में हिडिंब कौन था?

अब ताऊ की रामराम.

उत्तर :-

हिडिंब, भीम का साला था. विस्तृत विवरण इसी पोस्ट की सीमा गुप्ता,मुरारी पारीक, श्री दिनेशराय द्विवेदी, और उडनतश्तरी की टिप्पणियां देखें!

Powered By..
stc2

Promoted By : ताऊ और भतीजाएवम कोटिश:धन्यवाद

10 comments:

  seema gupta

18 December 2009 at 08:21

हिडिंब महाभारत काल का एक राक्षस था, जो अपनी बहन हिडिंबा के साथ वन में रहा करता था। उसकी बहन हिडिंबा काली माता की भक्त थी, और उसे प्रतिदिन चढा़वे के रूप मे एक मनुष्य की बलि माता को देनी होती थी। एक दिन हिडिंब बहन के लिए मानव बलि हेतु वनवासरत् पांडवों में से एक भीम को पकड़ लाया। हिडिंबा भीम को देख उस पर मोहित हो गई, और भीम से बोली कि वह अपने भाई हिडिंब से उसे बचा कर कहीं दूर स्थान पर भेज देगी। जब बहुत समय होने पर भी हिडिंबा मानव बलि के लिए भीम को लेकर नहीं आई, तो हिडिंब अपनी बहन के पास पहुँचा और भीम के साथ विहार करती हिडिंबा को मारने के लिए दौडा़। इसपर भीम ने उसे ललकारा और उसका वध कर दिया। भीम और हिडिंबा के गन्धर्व विवाह से हिडिंबा को घटोत्कच नामक पुत्र प्राप्त हुआ।

महाभारत युद्ध मे घटोत्कच ने पांडवों की ओ‍र से वीरतापूर्वक भाग लिया था।

regards

  Murari Pareek

18 December 2009 at 08:52

bhim ki patni hidimbaa ka bhai tha rakhshas hidimb

  निर्मला कपिला

18 December 2009 at 08:56

अरे सीमा जी आप किस दिन देर से उठती हैं? मैं उसी दिन जवाब दे सकूँ। चलो आज फिर मेरी बधाई स्वीकार कर लें । शुभकामनायें।

  दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi

18 December 2009 at 09:14

अरे! ये हिडिम्ब तो हमारे ही इलाके का था। कोटा से भोपाल की ओर 50 किलोमीटर पर दर्रा वन्य जीव अभयारण्य में रहता था। बहुत तंग करता था लोगों को। ताकत के बल पर लोगों से माल वसूली करता था। एक दिन भीम को लपेटे में लेने की कोशिश की तो खुद ही लिपट गया और निपट गया। पर उस की बहन हिडिम्बा भीम पर फिदा हो गई। भीम ने उस से शादी कर ली। एक बालक हुआ घटोत्कच जिस का पुत्र हुआ बर्बरीक जो आज कल खाटू के श्याम बाबा के रूप में पूजा जाता है।

  Udan Tashtari

18 December 2009 at 09:22

हिडिंब महाभारत काल का एक राक्षस था, जो अपनी बहन हिडिंबा के साथ वन में रहा करता था। उसकी बहन हिडिंबा काली माता की भक्त थी, और उसे प्रतिदिन चढा़वे के रूप मे एक मनुष्य की बलि माता को देनी होती थी। एक दिन हिडिंब बहन के लिए मानव बलि हेतु वनवासरत् पांडवों में से एक भीम को पकड़ लाया। हिडिंबा भीम को देख उस पर मोहित हो गई, और भीम से बोली कि वह अपने भाई हिडिंब से उसे बचा कर कहीं दूर स्थान पर भेज देगी। जब बहुत समय होने पर भी हिडिंबा मानव बलि के लिए भीम को लेकर नहीं आई, तो हिडिंब अपनी बहन के पास पहुँचा और भीम के साथ विहार करती हिडिंबा को मारने के लिए दौडा़। इसपर भीम ने उसे ललकारा और उसका वध कर दिया। भीम और हिडिंबा के गन्धर्व विवाह से हिडिंबा को घटोत्कच नामक पुत्र प्राप्त हुआ।

महाभारत युद्ध मे घटोत्कच ने पांडवों की ओ‍र से वीरतापूर्वक भाग लिया था।



-एक ही रास्ता था...कट पेस्ट...सीमा जी कह गई...तो अटल सत्य. :)


हा हा!!

Regards भी लगा देते हैं. :)

  seema gupta

18 December 2009 at 09:38

हा हा शुक्रिया आदरनीय "समीर" जी

regards

  seema gupta

18 December 2009 at 09:41

@ आदरणीय निर्मला जी सब आपके आशीर्वाद और स्नेह का परिणाम है, बस अपना स्नेह बनाये रखे ...
regards

  महफूज़ अली

18 December 2009 at 10:21

आदरणीय समीरजी के कमेन्ट को मेरा भी कमेन्ट मान लिया जाए.....

  रंजन

18 December 2009 at 10:25

ताऊ के सवाल सीमा जी के जबाब और समीर जी की कोपी पेस्ट.. भाई हमने क्या बिगाड़ा है.. हमहू कर लेते है कोपी पेस्ट.

"regards"

बस ये ही कोपी हुआ..

  प्रकाश गोविन्द

18 December 2009 at 13:07

रजिस्टर्ड जवाब आ चूका है ...
संदेह की कोई गुंजाईश नहीं
अतः हमारा भी कट-पेस्ट मान लिया जाए

[{("regards")}]

Followers