दिमागी कसरत - 57 : विजेता : सुश्री साधना वेद


"दिमागी कसरत - 57 के जवाब"


प्यारे साथियों, मैं आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" आपका हार्दिक स्वागत करता हूं और अब मैं आपको दिमागी कसरत - 57 के जवाब बताता हूं.


सवाल था : मोर के अंडॆ नहीं होते तो फिर बच्चे कहाँ से आते हैं?

सही जवाब है :- मोरनी के अंडों से

और आज भी सबसे पहले जवाब देकर सुश्री साधना वेद प्रथम विजेता बन गयी ! बधाई.

इसके बाद सही जवाब दिया सुश्री रेखा प्रहलाद
सुश्री निर्मला कपिला
श्री K. D. Kash
श्री मुरारी पारीक
श्री मोहसिन
श्री दिगम्बर नासवा ने, सभी विजेताओं को बधाई!

सभी प्रतिभागियों को बधाई और शुभकामनाएं देते हुये अब अगले दिमागी सवाल में कल सुबह ८:०० बजे मिलेंगे. तब तक के लिये नमस्ते!


Powered By..
stc2

Promoted By : ताऊ और भतीजाएवम कोटिश:धन्यवाद

7 comments:

  Udan Tashtari

26 January 2010 at 00:17

हैट्रिक विजेता साधना जी को बधाई...


अब तो साधना जी को बधाई लिख कर रख लिया है...रोज कट पेस्ट कर देते हैं. :)

  डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक

26 January 2010 at 06:10

सभी को बधाई!

नया वर्ष स्वागत करता है , पहन नया परिधान ।
सारे जग से न्यारा अपना , है गणतंत्र महान ॥

गणतन्त्र-दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ!

  Sadhana Vaid

26 January 2010 at 09:21

बहुत बहुत आभार और धन्यवाद आप सभी गुणीजनो का |
आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाये|

  Rekhaa Prahalad

26 January 2010 at 09:34

साधना जी को बधाई.

  Rekhaa Prahalad

26 January 2010 at 09:34

साधना जी को बधाई.

  दिगम्बर नासवा

26 January 2010 at 13:52

जब मैने जवाब दिया मुझे लगा मैं ही फास्ट हूँ ........ पता नही था कितने धुरंधर हैं ...... आपको गणतंत्र दिवस की बहुत बहुत बधाई ....

  amar singh

26 September 2016 at 18:54

ढपोरशंख जिस दिन पैदा हुआ था उसी दिन उसके पापा एक पिग्गी बॉक्स खरीद कर लाये, और तुरन्त पिग्गी बाक्स मेँ 500 रूपये डाल दिये और उन्होने संकल्प किया कि वे अपने हर जन्मदिन पर उसमे 2 रुपये और ढपोरशँख के हर जन्मदिन पर 100 रुपये जमा करते रहेँगे|
दुर्भाग्य से ढपोरशंख 40 वर्ष कि अल्पायु मेँ मर गया तो उसके बूढे बाप ने पिग्गीबोक्स को खोला तो उसमे सिर्फ 520 रुपये ही थे!

अब सोच सोचकर बतायेँ कि आखिर ये कैसे हुआ?

Followers