फ़र्रुखाबादी जीनियस विजेता (196) : श्री यशवंत मेहता "फ़कीरा"

नमस्कार बहनों और भाईयो. रामप्यारी पहेली कमेटी की तरफ़ से मैं समीरलाल "समीर" यानि कि "उडनतश्तरी" फ़र्रुखाबादी सवाल का जवाब देने के लिये आचार्यश्री यानि कि हीरामन "अंकशाश्त्री" जी को निमंत्रित करता हूं कि वो आये और रिजल्ट बतायें.

प्यारे साथियों, मैं आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" आपका हार्दिक स्वागत करता हूं और रामप्यारी पहेली कमेटी का भी शुक्रिया अदा करता हूं कि उन्होने मुझे इस काबिल समझा और यह सौभाग्य मुझे प्रदान किया. इससे पहले की मैं आपको रिजल्ट बताऊं आप सवाल का मूल चित्र नीचे देख लिजिये जिससे की यह सवाल का चित्र लिया गया था.



Viva Masaba!
There was a time when
Masaba, daughter of actress Neena Gupta and former West Indies skipper Viv Richards, was fiercely guarded. Today she’s growing up with dreams and aspirations of her own. No, she isn’t grooming herself to be a sportswoman but instead looking at fashion and modelling on the international circuit. Seen here, mother and daughter at a Rohit Bal show in Mumbai.


आज के विजेता हैं श्री यशवंत मेहता "फ़कीरा" ...हार्दिक बधाई!


यशवन्त मेहता "फ़कीरा" said...
नीना गुप्ता की बेटी मसाबा

26 February 2010 19:30

इसके अलावा सुश्री सुश्री अंजना और श्री विशाल ने भी सही जवाब दिये. हार्दिक बधाई!

सभी प्रतिभागियों को उत्साह वर्धन के लिये धन्यवाद! और होली की बधाई

अब आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" को इजाजत दिजिये! अब होली के बाद मंगलवार को शाम 6:00 बजे एक नई पहेली मे आपसे मुलाकात होगी. तब तक के लिये नमस्ते!




Promoted By : लतश एवम शिल्कर, धन्यवादको पंकज

6 comments:

  यशवन्त मेहता "फ़कीरा"

27 February 2010 at 18:23

बहुत बहुत धन्यवाद डाक्टर झटका को,
हमारे प्रमाणपत्र कब मिलेगें????

  M VERMA

27 February 2010 at 18:59

फकीरो को प्रमाण पत्र की क्या जरूरत
बहुत बहुत बधाई

  अजय कुमार झा

27 February 2010 at 19:12

अरे बाप रे ई को भी पहचान गया ...ई यशवंत को तो फ़िर फ़कीर बनना ही था ......
अजय कुमार झा

  अजय कुमार झा

27 February 2010 at 19:13

डा. झटका कह रहे हैं कि बेटा यशवंत अब इसका प्रमाणपत्र तो विव रिचर्ड ही देंगे ..काहे से कि उ भी नहीं पहचान पाए थे इसको
अजय कुमार झा

  अल्पना वर्मा

28 February 2010 at 09:41

बहुत बहुत बधाई!
-होली की बहुत बहुत शुभकामनाएं

  निर्मला कपिला

1 March 2010 at 09:08

फकीरा ऐसे ही नही बना सब कुछ जानता है अन्तर्यामी है। यशवन्त जी को बधाई

Followers