ताऊ की चौपाल - 2 : विजेता सुश्री साधना वेद


"ताऊ की रविवारीय चौपाल के जवाब"


प्यारे साथियों, मैं आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" आपका हार्दिक स्वागत करता हूं और अब मैं आपको ताऊ की चौपाल - 1 के सवाल का जवाब बताता हूं.


सवाल था :-

रोटी जली क्यों...?
घोड़ा अड़ा क्यों...?
पान सड़ा क्यों...?

जवाब : फ़ेरा ना था!

और आज की प्रथम विजेता हैं सुश्री साधना वेद

बधाई.


Sadhana Vaid said...
क्योंकि फेरा न गया |
उल्टी पलटी ना गयी इसलिए रोटी जल गयी |
एक जगह खड़े खड़े घोड़ा बिगड़ गया |
उलटे पलटे ना गए इसलिए पान सड़ गए |

14 February 2010 08:15


और इसके बाद श्री raveesingh और डा. श्री रुपचंद्र शाश्त्री "मयंक, ने भी बिल्कुल सही जवाब दिया. बधाई.

सभी प्रतिभागियों को बधाई और शुभकामनाएं ! अगले सवाल तक के लिये नमस्ते!

5 comments:

  दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi

15 February 2010 at 10:20

...........
बाबू बिगड़ा क्यों?
फेरा न था।

  संगीता पुरी

15 February 2010 at 10:52

आज की प्रथम विजेता कौन है ??
ऊंपर साधना वैद्य जी को नाम है और अंदर अल्‍पना वर्मा जी का !!

  मिस. रामप्यारी

15 February 2010 at 11:19

@ संगीता आंटी,

आजकल डाँ. झटका जरा ज्यादे ही झटके खा रहे हैं. उन्होने साधना आंटी की जगह अल्पना आंटी का लिंक लगा दिया था. उनकि तरफ़ से मैं माफ़ी चाहती हूं. अभी सब दुरुस्त कर दिया गया है.

सादर

  Udan Tashtari

15 February 2010 at 21:42

साधना जी को बहुत बधाई.

  Sadhana Vaid

15 February 2010 at 23:03

धन्यवाद समीरजी | अब तो इस पहेली जगत का कुछ चस्का सा लग गया है | जब भी वक्त मिलता है खिचे चले आते हैं कम्प्यूटर की ओर |

Followers