फ़र्रुखाबादी विजेता (199) : श्री चंदन कुमार झा

नमस्कार बहनों और भाईयो. रामप्यारी पहेली कमेटी की तरफ़ से मैं समीरलाल "समीर" यानि कि "उडनतश्तरी" फ़र्रुखाबादी सवाल का जवाब देने के लिये आचार्यश्री यानि कि हीरामन "अंकशाश्त्री" जी को निमंत्रित करता हूं कि वो आये और रिजल्ट बतायें.

प्यारे साथियों, मैं आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" आपका हार्दिक स्वागत करता हूं और रामप्यारी पहेली कमेटी का भी शुक्रिया अदा करता हूं कि उन्होने मुझे इस काबिल समझा और यह सौभाग्य मुझे प्रदान किया. हमने नीचे वाला चित्र दिखाया था. जी हां यह मूंगफ़ली के पौधे पर ही बच्चे लोग लोट पोट हो रहे हैं.




आज के विजेता हैं चंदन कुमार झा
...हार्दिक बधाई!

मूँगफली का पौधा ।

12 March 2010 18:42

इसके अलावा सुश्री रेखा प्रहलाद
डा.रुपचंद्रजी शाश्त्री "मयंक,
श्री.  डी. के. शर्मा “वत्स”
सुश्री संगीता पुरी, ने भी बिल्कुल सही जवाब दिया. सभी को बहुत बधाई!


सभी प्रतिभागियों को उत्साह वर्धन के लिये धन्यवाद!

अब आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" को इजाजत दिजिये! अब परसों मंगलवार को एक नई पहेली, जो की खुल्ला खेल फ़र्रुखाबादी की २०० वीं पहेली होगी, में आपसे मुलाकात होगी. और ध्यान रखियेगा कि २०० वीं पहेली के विजेता को एक शानदार सर्टीफ़िकेट दिया जायेगा. तब तक के लिये नमस्ते!




Promoted By : लतश एवम शिल्कर, धन्यवादको पंकज

5 comments:

  निर्मला कपिला

14 March 2010 at 09:58

श्री चंदन कुमार जी को व अन्य विजेताओं को बधाई।

  यशवन्त मेहता "फ़कीरा"

14 March 2010 at 10:41

बहुत बहुत मुबारक हो.....

  Udan Tashtari

14 March 2010 at 12:11

चंदन कुमार झा जी को बधाई.

  चंदन कुमार झा

14 March 2010 at 12:17

आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद !!!

  शरद कोकास

16 March 2010 at 01:30

सभी को बधाई ।

Followers